मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।
मेरी सांस सांस में तेरा, है नाम मुरली वाले

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।

भक्तो की तुमने कान्हा, विपदा है टारी।
मेरी भी बाह थामो, आ के बिहारी
बिगड़े बनाए तुमने, हर काम मुरली वाले

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।
मेरी सांस सांस में तेरा, है नाम मुरली वाले॥

पतझड़ है मेरा जीवन, बन के बहार आजा।
सुन ले पुकार कान्हा, बस एक बार आजा।
बैचैन मन के तुम ही, आराम मुरली वाले॥

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।
मेरी सांस सांस में तेरा, है नाम मुरली वाले॥

पतझड़ है मेरा जीवन, बन के बहार आजा।
सुन ले पुकार कान्हा, बस एक बार आजा।
बैचैन मन के तुम ही, आराम मुरली वाले॥

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।
मेरी सांस सांस में तेरा, है नाम मुरली वाले॥

तुम हो दया के सागर, जनमों की मैं हूँ प्यासी।
दे दो जगह मुझे भी, चरणों में बस ज़रा सी।
सुबह तुम ही हो, तुम ही, मेरी शाम मुरली वाले

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले।
मेरी सांस सांस में तेरा, है नाम मुरली वाले॥

मुझे चरणों से लगा ले, मेरे श्याम मुरली वाले

(Visited 25 times, 1 visits today)