bhajan, bhajan lyrics

मेरी लगी श्याम संग प्रीत – हिन्दी भजन

मेरी लगी श्याम संग प्रीत, ये दुनिया क्या जाने मुझे मिल गया मन का मीत, ये दुनिया क्या जाने क्या जाने कोई क्या जाने क्या जाने कोई क्या जाने मेरी…

admin on
bhajan, bhajan lyrics

कान्हा रे थोडा सा प्यार दे – हिन्दी भजन

कान्हा रे थोडा सा प्यार दे, चरणों में बैठा के तार दे ओ गोरी, घूंघट उतर दे, प्रेम की भिक्षा झोली में डार (डाल) दे कान्हा रे थोडा सा प्यार…

admin on
bhajan, bhajan lyrics

फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी – भजन हिंदी में

फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी। और साथ सज रही हैं, वृषभान की दुलारी॥ टेढ़ा सा मुकुट सर पर, रखा है किस अदा से। करुणा बरस रही है,…

admin on
aarti, aarti kunj bihari ki, aarti kunj bihari ki bhajan

Main Aarti Teri Gaun, O Keshav Kunj Bihari – आरती हिंदी में

मैं आरती तेरी गाउँ, ओ केशव कुञ्ज बिहारी। मैं नित नित शीश नवाऊँ, ओ मोहन कृष्ण मुरारी॥ मैं आरती तेरी गाउँ, ओ केशव कुञ्ज बिहारी। मैं नित नित शीश नवाऊँ,…

admin on
कबीर के दोहे

कबीर दोहे हिंदी में – भक्ति प्रतिक

कामी क्रोधी लालची, इनसे भक्ति ना होय। भक्ति करै कोई सूरमा, जाति बरन कुल खोय॥ अर्थ (Meaning in Hindi): कामी क्रोधी लालची – कामी (विषय वासनाओ में लिप्त रहता है),…

admin on
कबीर के दोहे

कबीर के दोहे – गुरू महिमा- हिन्दी अर्थ सहित

गुरु गोविंद दोऊँ खड़े, काके लागूं पांय। बलिहारी गुरु आपने, गोविंद दियो बताय॥ अर्थ (Meaning in Hindi): गुरु गोविंद दोऊ खड़े – गुरु और गोविन्द (भगवान) दोनों एक साथ खड़े…

admin on
कबीर के दोहे

कबीर के दोहे – हिंदी अर्थ सहित

कबीर ते नर अन्ध हैं, गुरु को कहते और। हरि के रुठे ठौर है, गुरु रुठे नहिं ठौर॥ अर्थ (Meaning in Hindi): कबीर ते नर अन्ध हैं – संत कबीर…

admin on
(Visited 6 times, 1 visits today)